10 ट्रक चावल भेजा जाएगा अयोध्या:राम मंदिर के उद्घाटन पर पटना का इस्कॉन मंदिर कराएगा स्टेज प्रोग्राम, 2 लाख भगवत गीता बांटी जाएगी

अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन समारोह को लेकर पटना के मंदिरों की ओर से भी सौगात भेजी जा रही है। 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर के उद्घाटन पर इस्कॉन मंदिर की ओर से 26 जनवरी से 26 फरवरी तक 10 हजार भक्तों के बीच प्रसाद का वितरण किया जाएगा। मंदिर के अध्यक्ष कृष्ण कृपा दास ने बताया कि अयोध्या में सुबह से रात तक महाप्रसाद का वितरण होगा।

महाप्रसाद के लिए चावल भेजा जा रहा है। बिहार से 10 ट्रक चावल अयोध्या भेजा जाएगा। इसमें करीब 100 टन चावल होंगे। चावल की आपूर्ति कम होने पर फिर से व्यवस्था की जाएगी। इस दौरान भक्तों को चावल, दाल, सब्जी, पूरी, पकौड़ा, पापड़ समेत अन्य व्यंजन मिलेंगे। इसके लिए किसी प्रकार का शुल्क नहीं लगेगा।

2 लाख भगवत गीता बांटा जाएगा

इस एक महीने में देश-विदेश में इस्कॉन मंदिर की तरफ से भक्तों के बीच करीब 2 लाख भगवत गीता निशुल्क बांटा जाएगा। इसके अलावा अयोध्या में हरि-नाम संकीर्तन होगा। देश-विदेश के भक्त वहां पहुंच रहे हैं।

पूरे अयोध्या में घूम-घूमकर सभी भक्त ‘हरे कृष्णा-हरे राम’ का कीर्तन करेंगे। इस्कॉन की तरफ से कुछ स्टेज प्रोग्राम भी होंगे। जिसके लिए पंडाल, हॉल और टेंट बनाया जा रहा है। करीब 1000-1500 लोगों के रहने की व्यवस्था की जा रही है। 10 जनवरी तक इसे तैयार कर लिया जाएगा।

महावीर मंदिर भेजेगा मिथिला का पाग, पान और मखाना का उपहार

वहीं, राम मंदिर के उद्घाटन समारोह को और खास बनाने के लिए पटना के महावीर मंदिर की ओर से भी तैयारी चल रही है। महावीर मंदिर की ओर से भगवान राम के लिए उनके ससुराल मिथिला का पाग, पान और मखाना के साथ कई उपहार भेजे जाएंगे।

महावीर मंदिर के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि देशभर से अयोध्या पहुंचने वाले भक्तों की संख्या को देखते हुए 15 जनवरी से 15 फरवरी तक सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक राम रसोई चलेगी। राम रसोई अयोध्या में बिहार की खास पहचान बनेगी। श्रीराम मंदिर परिसर में 10 हजार स्क्वॉयर फीट में राम रसोई बनाने का प्लान भी है।

अभी राम लला के सामने स्वर्णिम दीपक भी महावीर मंदिर से भेजे गए गाय के घी से जलाया जाएगा।इसके अलावा जो लोग अधिक भीड़ की वजह से नहीं बैठ पाएंगे, उन्हें प्रसाद का पैकेट दिया जाएगा।

राम मंदिर निर्माण के लिए 10 करोड़ की सहयोग राशि

श्रीराम जन्मभूमि के पक्ष में फैसले से पहले सुप्रीम कोर्ट को अहम साक्ष्य उपलब्ध कराने के साथ ही महावीर मंदिर की ओर से राम मंदिर निर्माण के लिए 10 करोड़ की सहयोग राशि देने की घोषणा की गई थी। राम मंदिर निर्माण के लिए 8 करोड़ की राशि दी जा चुकी है। बची हुई 2 करोड़ की राशि उद्घाटन से पहले 15 जनवरी तक दे दी जाएगी। आचार्य कुणाल के अनुसार, अकेले किसी संस्था या व्यक्ति द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए दी जाने वाली यह सबसे बड़ी राशि है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *