भाजपा के 45 पार्षद MIC बनने लगा रहे जुगाड़:स्थानीय विधायकों ने अपने क्षेत्रों के पार्षदों के नाम बढ़ाए; इन नामों की चर्चा

जबलपुर में महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू के कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने के बाद नगर सत्ता में बदलाव हो चुका है। जिसके चलते एमआईसी भंग हो चुकी है। अब नई एमआईसी में शामिल होने के लिए भाजपा के पार्षद संगठन, विधायक से लेकर भोपाल तक जुगाड़ लगा रहे हैं। भाजपा के 45 पार्षद इन दिनों 10 विभागों के मुखिया बनने के लिए बेताब नजर आ रहे हैं।

भाजपा पार्षद संगठन से लेकर विधायकों के दरवाजे पर दस्तक दे रहे है। शहर में कई दावेदारों के नाम की भी चर्चा चल रही हैं। एमआईसी में एक नाम लगभग तय माना जा रहा है। जिसमें कमलेश अग्रवाल का नाम शामिल है। नेता प्रतिपक्ष होने के कारण उनका एमआईसी बनना तय माना जा रहा हैं। वही महापौर भी जल्द मेयर इन काउंसिल का गठन करना चाह रहे हैं। जिसका पार्षदों को भी इंतजार हैं।

विधायकों ने भी सिफारिश की; संगठन का निर्णय अंतिम

बीजेपी के क्षेत्रीय विधायकों ने अपने-अपने विधानसभा से दो से तीन नामों को आगे बढ़ाया है। हालांकि इसमें सिहोरा विधानसभा और बरगी विधानसभा के पार्षदों का नाम शामिल नहीं है। कयास लगाए जा रहे हैं सर्वाधिक एमआईसी पश्चिम विधानसभा क्षेत्र से ही बनाए जाएंगे। संगठन की अनुशंसा पर ही पार्षदों को एमआईसी में जगह मिल सकती है। लिहाजा इस बीच कांग्रेस के भी कुछ पार्षद यदि भाजपा में शामिल होते हैं, तब परिस्थिति बदल सकती है।

महापौर की MIC में इनमें से हो सकते हैं नाम!

  • कमलेश अग्रवाल
  • महेश सिंह राजपूत
  • लवलीन आनंद
  • बाबा शरद श्रीवास्तव
  • अंशुल यादव
  • दामोदर सोनी या निशांत झारिया
  • संतोषी ठाकुर या रीना ऋषि यादव
  • रजनी कैलाश साहू
  • सोनिया रंजीत सिंह
  • विवेक राम सोनकर
  • जीतू कटारे
  • सुभाष तिवारी
  • प्रिया संजय तिवारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *