प्रेमी को पाने के लिए रची खौफनाक साजिश, घर बुलाकर सहेली को जिंदा जलाया, कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा

उत्तर प्रदेश के मेरठ में हत्या की आरोपी एक महिला को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है. दरअसल लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र में अप्रैल 2019 को एक जला हुआ शव मिला था. जिसकी शिनाख्त अफसाना के तौर पर हुई थी. परिजनों ने शव को दफना दिया था. लेकिन करीब तीन साल बाद अफसाना जिंदा मिली, तो हर किसी के होश उड़ गए. तुरंत ही पुलिस ने महिला को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ शुरू की गई. 

महिला से पूछताछ के दौरान पुलिस को हत्या की एक खौफनाक साजिश का पता चला. जिसे सुनकर हर किसी के होश उड़ गए. अफसाना ने पुलिस को बताया कि उसने अपने प्रेमी को पाने के लिए अपनी सहेली की हत्या की थी. प्लान के मुताबिक उसने अपनी सहेली को मिलने के लिए घर बुलाया और उसे नशीला पदार्थ सुंघाकर जिंदा जला दिया था. फिर खुद को मरा हुआ घोषित कर अपने प्रेमी के साथ फरार हो गई थी. लेकिन कुछ दिन बाद उसके प्रेमी ने भी उसे ठुकरा दिया.

जानें हत्या का पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक जीनत नाम की महिला 1 अप्रैल 2019 से लापता थी. जीनत का अपने पति अशरफ से अक्सर झगड़ा रहता था. इसी दौरान अफसाना नाम की महिला के भाई इशियक ने अपनी बहन की गुमशुदगी का मुकदमा मेरठ के लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र में दर्ज कराया. इसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि जीनत और अफसाना सहेली थी और जीनत का अफसाना के घर आना जाना था.

पुलिस अफसाना के घर पहुंची, वहां पता चला कि अफसाना की जलकर मौत हो चुकी है और पुलिस जीनत को ढूंढने में लगी रही. बता दें, थाना लिसाली गेट क्षेत्र में 2 अप्रैल 2019 में एक महिला की डेडबॉडी घर में जली मिली थी. जिसकी शिनाख्त यहां रहने वाली अफसाना के तौर पर हुई थी. लेकिन इसी बीच अफसाना को जिंदा देखा गया. तो पूछताछ में उसने खुद को निशा बताया. एक दिन अफसाना उर्फ निशा अपने प्रेमी की शिकायत करने थाने पहुंची. तो थाने में अफसाना को एक पुलिसकर्मी ने पहचान लिया.

प्रेमी को पाने के लिए सहेली की हत्या

ऐसे में सवाल खड़ा हुआ कि अगर अफसाना जिंदा है तो मरने वाली युवती कौन थी. पुलिस में अफसाना को गिरफ्तार कर उससे सख्ती से पूछताछ शुरू की तो हैरान करने वाला खुलासा हुआ. जिसने सुनकर पुलिसकर्मी भी दंग रह गए.

आरोपी महिला ने पुलिस को बताया कि उसने अपने प्रेमी को पाने के लिए सहेली की हत्या की. उसने सहेली को घर बुलाया और उसे नशीला पदार्थ सुंघाकर जिंदा जला दिया और खुद को मरा हुआ घोषित कर दिया और अपने प्रेमी के साथ फरार हो गई, लेकिन कुछ दिन बाद उसके प्रेमी ने भी उसको ठुकरा दिया.

सलेही को जिंदा जलाने के बाद प्रेमी के साथ हुई थी फरार

एक दिन अफसाना उर्फ निशा अपने प्रेमी की शिकायत करने थाने पहुंची, जहां उसने बताया कि उसका प्रेमी उसे ठुकरा चुका है और अपने पास नहीं रख रहा है. थाने में अफसाना को एक पुलिसकर्मी ने पहचान लिया.

अफसाना ने बताया कि उसकी शादी अबरार नाम के शख्स के साथ हुई थी, लेकिन प्रवीण नाम के युवक से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था और वह अपने प्रेमी के साथ ही रहना चाहती थी. पर धर्म अलग होने की वजह से उसे काफी दिक्कतें आ रहीं थी.

टीवी सीरियल देख आया हत्या का आईडिया

इस दौरान अफसाना ने एक टीवी सीरियल देखा, जिसमें अपनी पहचान छुपाने के लिए एक ने दूसरे की हत्या की थी. फिर अफसाना ने एक खौफनाक योजना बनाई और अपनी सहेली जीनत को मिलने के लिए अपने घर बुलाया और उसे बेहोश कर दिया. फिर गैस सिलेंडर का पाइप काटकर उसमें आग लगा दी और खुद फरार हो गई.

परिवार और लोगों को लगा कि अफसाना की मौत हो गई. जब अफसाना अपने प्रेमी प्रवीण के पास पहुंची और उसे पूरी घटना के बारे में बताया तो प्रवीण ने अफसाना को अपने साथ रखने से मना कर दिया. प्रवीण ने उससे कहा कि जिस तरीके से उसने यह हत्या की है तो वह उसे नहीं रख सकता. इसके बाद अफसाना ने अपना नाम निशा रख लिया और प्रेमी प्रवीण की शिकायत करने थाने पहुंची लेकिन वहां उसकी पहचान लिया गया.

गैस सिलेंडर का पाइप काटकर लगाई थी आग

अफसाना को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेजा. मामला मेरठ के कोर्ट में पहुंचा और अफसाना को कोर्ट ने दोषी मानते हुए उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई. सरकारी वकील मुकेश कुमार मित्तल ने बताया कि सबूतों के आधार पर कोर्ट ने अफसाना को हत्या का दोषी मानते हुए उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई. यह मामला दो 2 अप्रैल 2019 का है.

कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा

इस मामले पर एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह ने बताया कि अफसाना ने अपनी जगह अपनी सहेली जीनत को जलाकर मार दिया था पुलिस के द्वारा प्रभावित पैरवी की गई है जिसमें कोर्ट ने अफसाना को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *