भाजपा विधायक नरेंद्र कुशवाहा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी:MPMLA कोर्ट ने दिए आदेश

ग्वालियर के जिला एवं सत्र न्यायालय की MPMLA कोर्ट ने भिंड के भाजपा विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। उनके खिलाफ भिण्ड के देहात थाने में एक दलित व्यक्ति बाबूराम जामौर को अवैध निरोध में रखकर मारपीट करने और उसका जातिगत अपमान करने का मुकदमा दर्ज है। इसमें गोहद के वर्तमान में कांग्रेस विधायक केशव देसाई सहित चार लोग आरोपी बनाए गए थे। इसमें रामलखन नामक व्यक्ति की सुनवाई के दौरान मौत हो चुकी है। एमपी एमएलए कोर्ट ने ग्वालियर और भिंड एसपी को निर्देशित किया है कि अगली सुनवाई में नरेंद्र सिंह कुशवाहा को आवश्यक रूप से कोर्ट में उपस्थित रखें अगर किसी कारण से उपस्थित नहीं रख पाते है तो तामिल की विशेष जानकारी के साथ कोर्ट में उपस्थित रहेंगे।

भिंड के देहात थाने में उत्पीड़न का केस दर्ज हुआ था

बता दें कि यह मामला 2015 का है जब भिंड में जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव का समय था। उस समय बाबूराम जामौर भी सदस्य के रूप में वार्ड छह जवासा से अपना नामांकन दाखिल करना चाह रहे थे। यही से भिण्ड विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह की पत्नी मिथलेश कुशवाह अपना नामांकन दाखिल करने की तैयारी में थी। भिंड विधायक नरेंद्र कुशवाह गोहद विधायक केशव देसाई और उनके समर्थकों ने बाबूराम जामौर को बीच बाजार से अगवा कर लिया और जंगल में ले जाकर उनके साथ जमकर मारपीट की गई और उनका जातिगत अपमान भी किया गया था। इस मामले में भिंड देहात पुलिस ने भिण्ड विधायक नरेंद्र कुशवाह गोहद के कांग्रेस विधायक केशव देसाई सहित दो अन्य लोगों के खिलाफ दलित उत्पीड़न अवैध निरोध में रखने और धमकाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था।

विधायक ने अपने साथियों के साथ पीड़ित की जंगल में ले जाकर की थी मारपीट

शासकीय अधिवक्ता धर्मेंद्र शर्मा ने बताया कि ग्वालियर की MPMLA कोर्ट में यह मामला लंबे अरसे से विचाराधीन है। न्यायालय ने पूर्व में भी आरोपियों को अपने बयान दर्ज करने के लिए निर्देशित किया था। न्यायालय के आदेश पर गोहद के कांग्रेस विधायक केशव देसाई बुधवार को न्यायालय में पेश हुए लेकिन नरेंद्र सिंह कुशवाह कोर्ट के निर्देश के बावजूद दूसरी बार पेश नहीं हुए तब उनके खिलाफ विशेष न्यायालय ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया है और उन्हें 8 जनवरी को उपस्थित होने को कहा गया है। इसके लिए भिंड और ग्वालियर के पुलिस अधीक्षकों को भी निर्देशित किया गया है। वहीं विधायक नरेंद्र कुशवाह की जमानत देने वाले के खिलाफ भी अलग से एक मामला दर्ज किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *