निजी स्कूलों पर कलेक्टर का एक्शन:18 स्कूलों के खिलाफ जांच शुरू; स्टेमफील्ड स्कूल पर लग सकता है 2 लाख का जुर्माना, मान्यता पर भी खतरा

निजी स्कूलों की मनमानी और अभिभावकों को हो रही परेशानी को लेकर जबलपुर कलेक्टर ने बड़ी कार्रवाई करते हुए जिले के 18 स्कूलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के लिए निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए है। कलेक्टर ने यह भी कहा कि गलती पाए जाने पर स्कूलों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाए। कलेक्टर दीपक कुमार सक्सेना की इस कार्रवाई से निजी स्कूलों में हड़कंप मच गया है। दरअसल कलेक्टर को अभिभावकों के द्वारा लगातार शिकायत मिल रही थी कि खास दुकानों से कॉपी-किताब और यूनिफॉर्म खरीदने उन्हें बाध्य करते हुए दबाव बनाया जा रहा है। कलेक्टर ने अभिभावकों के लिए एक व्हाटसअप नंबर भी जारी किया है जिस पर शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है।

धारा 6 एवं 9 के तहत कार्रवाई शुरू
अभिभावकों को खास दुकानों से कॉपी-किताब, यूनिफार्म और अन्य शैक्षणिक सामग्री क्रय करने के लिये बाध्य करने की शिकायतों पर जबलपुर जिला प्रशासन ने 18 निजी स्कूलों के विरुद्ध मध्यप्रदेश निजी विद्यालय ( फीस तथा अन्य संबंधित विषयों का विनियमन ) अधिनियम 2017 की धारा 6 एवं 9 में प्रकरण दर्ज कर वैधानिक कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गई है। कलेक्टर दीपक सक्सेना के निर्देशानुसार प्रारंभ की गई कार्यवाही में शिकायतों की जांच और खुली सुनवाई कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित जिला समिति द्वारा की जायेगी। खुली सुनवाई में अभिभावकों तथा अन्य सभी संबंधित पक्षकारों को साक्ष्य एवं कथन प्रस्तुत करने का मौका दिया जायेगा।

स्टेम फील्ड स्कूल पर लग सकता है 2 लाख का जुर्माना
कॉपी-किताबें और यूनिफॉर्म विशेष दुकान से खरीदने के लिये बाध्य करने के अलावा विजय नगर स्थित स्टेम फील्ड इंटरनेशनल स्कूल के विरुद्ध जांच शुरू हो गई है। जांच में पाया गया है कि स्टेम फील्ड स्कूल ने एक बार में ही 22 प्रतिशत फीस बढ़ा दी थी। अभिभावकों से मिली शिकायत को संज्ञान में लिया गया। कलेक्टर दीपक कुमार सक्सेना के निर्देश पर फीस वृद्धि के इस मामले की भी जांच की जा रही है। कलेक्टर ने कहा कि शिकायत सही पाए जाने पर स्कूल प्रबंधन के विरुद्ध 2 लाख रुपये का अर्थदंड लगाने के साथ-साथ स्कूल की मान्यता को निलंबित अथवा रद्द करने का निर्णय भी लिया जा सकता है।

व्हाट्सएप नम्बर पर मिली कलेक्टर को शिकायत
सभी शिकायतें स्कूली बच्चों के अभिभावकों द्वारा कलेक्टर दीपक सक्सेना को उनके व्हाट्स नम्बर पर की गई। दरअसल कलेक्टर दीपक सक्सेना ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दुकान विशेष से कॉपी-किताबें, यूनिफार्म और अन्य शैक्षिक सामग्री खरीदने के लिये बाध्य करने की शिकायतों पर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश देने के साथ ही अभिभावकों को अपने मोबाइल से इस तरह की शिकायत सीधे उन्हें व्हाट्सएप पर देने कहा था। कलेक्टर ने अभिभावकों से आग्रह किया था कि वे दुकान विशेष से कॉपी-किताबें या यूनिफार्म क्रय करने शाला प्रबंधन द्वारा औपचारिक या अनौपचारिक से दिये गये निर्देश, सलाह या सूचना, कार्ड अथवा स्कूल के अंदर या बाहर लगे पोस्टर, पम्पलेट अथवा बैनर की रिकार्डिंग या इमेज अपने मोबाइल से उनके व्हाट्सएप नम्बर 94070 83130 पर भेजें। अभिभावकों से मिली शिकायत को कलेक्टर ने पूरी तरह से गोपनीय रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *