कलेक्टर का आदेशः 7 मई को 5 निजी स्कूलों से कहा पूरे दस्तावेज लेकर खुली सुनवाई में शामिल हो

7 मई को 5 से अधिक स्‍कूलों की शिकायतों के समाधान के लिये होगी खुली सुनवाई

 

जबलपुर। निजी स्कूलों की लूट-खसूट की रोकथाम के लिए जबलपुर कलेक्टर ने कमर कस ली है। दो स्कूलों की खुली सुनवाई के बाद 5 स्कूलों को पत्र भेजकर कहा गया कि वह 7 मई को पूरे दस्तावेजों के साथ सुनवाई में पहुंचे। कलेक्टर के इस निर्देश के बाद स्कूलों में खलबली मच गई है, सबसे ज्यादा वह स्कूल परेशान है जिन्होंने स्कूल शिक्षा अधिकार अधिनियम के विपरीत जाकर फीस वृद्धि कर दी है। इन स्कूलों को चिंता सता रही है कि वह कैसे दस्तावेज लेकर पहंुचे क्योंकि वह पहले ही नियम विरूद्ध काम कर चुकें हैं। स्कूलों ने खुली पेशी में बेइज्जती न हो इसके लिए ऐड़ी-चोटी का जोर लगाना शुरू कर दिया है। नेताओं से लेकर अधिकारियों तक दरबार में जाने से स्कूल प्रबंधन नहीं चूक रहे हैं। चर्चा है कि जहां भी स्कूल मालिक जा रहे हैं वहां से उनको रट रटाया जवाब मिल रहा है कि इस मामले में वह कुछ मदद नहीं कर सकते हैं।
जानकारी के अनुसार कलेक्‍टर दीपक सक्‍सेना ने निजी स्‍कूलों की शिकायतों के समाधान के लिये 7 मई को सायं 5बजे कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में खुली सुनवाई आयोजित की है। जिसमें काईस्टचर्च स्कूल की सभी शाखाओं सहित ज्ञान गंगा आर्चिड इंटरनेशनल स्कूल, लिटिल वर्ल्ड कटंगा एवं तिलवाराघाट, सत्यप्रकाश स्कूल पोलीपाथर, अजय सत्यप्रकाश स्कूल पनागर, चौतन्य टैक्नो स्कूल, नालंदा स्कूल धनवंतरी नगर से संबंधित शिकायतों की खुली सुनवाई होगी। इसमें विद्यालय के प्रबंधक व प्राचार्य उपस्थित होकर शिकायतों पर उत्तर देगें। शिकायतकर्ता सुनवाई में उपस्थित रह सकेगें। अभिभावक यदि उक्‍त स्‍कूलों से संबंधित शिकायत करना चाहता है तो कलेक्टर, अपर कलेक्टर तथा जिला शिक्षा अधिकारी जबलपुर के पास जमा कर सकते हैं। प्राप्‍त सभी शिकायतों को सुनवाई में शामिल किया जावेगा। जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि अन्य विद्यालयों से संबंधित सुनवाई आगामी तिथियों में रखी जावेगी, जिसकी सूचना पृथक से जारी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *