कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक:230 सीटों पर प्रारंभिक चर्चा, वन-टू-वन कर लिए सुझाव, 17-18% विधायकों के टिकट कटने के संकेत

विधानसभा चुनाव के टिकटों को लेकर दो दिन तक न​ई दिल्ली में कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की मीटिंग हुई। सभी 230 सीटों के बारे में प्रारंभिक डिस्कशन बुधवार को पूरा हो गया है। कमेटी के चेयरमैन भंवर जितेंद्र सिंह और इंचार्ज जनरल सेक्रेटरी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सदस्यों से वन-टू-वन चर्चा कर उनके सुझाव लिए। सिटिंग एमएलए को टिकट पर अंतिम निर्णय एक और मीटिंग के बाद लिया जाएगा।

एआईसीसी की ओर से सुनील कानुगोलू के सर्वे में मौजूदा विधायकों में से 17 से 18 प्रतिशत विधायकों की परफाॅर्मेंस ठीक नहीं होने की बात सामने आई है। इनके टिकट कटने के संकेत हैं। फैसला सीईसी के द्वारा लिया जाएगा। सीईसी की बैठक 25 सितंबर तक संभावित है। इसके बाद ही पहली सूची जारी की जाएगी। इस पर भी जोर है कि भाजपा ने जिन 39 सीटों पर उम्मीदवार घोषित किए हैं, वहां कांग्रेस के वर्तमान सिटिंग एमएलए के टिकट घोषित किए जाएं। आगे भाजपा की जो सूचियां जारी हों, उसी के अनुसार कांग्रेस 103 उम्मीदवारों की सूची जारी करे।

जन आक्रोश यात्रा पर फोकस की हिदायत

रणदीप सुरजेवाला ने टिकटों के दावेदारों से कांग्रेस की 20 सितंबर से शुरू होने वाली जन आक्रोश यात्रा पर फोकस करने को कहा है। यह यात्रा 5 अक्टूबर तक होगी। इस यात्रा में सांसद, पूर्व सांसद, विधायकों, पूर्व ​विधायकों और टिकट के दावेदारों पर एआईसीसी के आब्जर्वर नजर रखेंगे। इसकी रिपोर्ट तैयार होगी। टिकट फाइनल करते समय यात्रा में सक्रियता भी टिकट का पैमाना होगा। ​पश्चिमी मप्र से निकलने वाली यात्रा का समापन मोहनखेड़ा में होगा। इस यात्रा में राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी शामिल हो रही हैं।

दूसरी पार्टियों से आने वालों के बारे में फैसला होल्ड

पिछले छह महीने में भाजपा से छोटे-बड़े 40 नेता अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस में शामिल हुए हैं, जिन्हें टिकट दिए जाने के बारे में चर्चा होल्ड कर दी गई है। ग्वालियर-चंबल और बुंदेलखंड में सबसे ज्यादा नेता भाजपा से कांग्रेस में आए हैं। भाजपा को कड़ी चुनौती देने वाला मानते हुए पार्टी इन्हें टिकट देने पर विचार कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *