40 हजार की रिश्वत मांग रहा था हवलदार:लोकायुक्त ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार, पान के ठेले में आया था रिश्वत लेने

जबलपुर लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार की रात गोरा बाजार थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक को 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। प्रधान आरक्षक का नाम उर्मेलेश ओझा है जो कि रिज रोड निवासी संदीप यादव से एक जांच को रफा दफा करने के मामले में 50 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा था। बाद में सौदा 40 हजार रुपए में तय हुआ। गुरुवार की रात करीब साढ़े सात बजे जैसे ही प्रधान आरक्षक ने रिश्वत के रुपए लिए तभी लोकायुक्त पुलिस ने उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त की गिरफ्त में पुलिस कर्मचारी के आते है बाजार में हड़कंप मच गया । लोकायुक्त पुलिस ने हेड कांस्टेबल को गिरफ्तार कर सर्किट हाउस नंबर दो ले आई। बताया जा रहा है कि आरोपी उर्मेलेश ओझा के साथ एक और पुलिसकर्मी था, जिसको लेकर लोकायुक्त पूछताछ में जुटी हुई है।

जमीन संबंधी शिकायत की जांच कर रहा था आरोपी

शिकायतकर्ता संदीप यादव गोरा बाजार थाना अंतर्गत रिज रोड़ में रहते है। संदीप यादव का प्रॉपर्टी का काम है। 2019 में राजेन्द्र जयसवाल के साथ संदीप यादव ने जमीन का अनुबंध किया था। जमीन की जब समय पर रजिस्ट्री नहीं हुई तो राजेन्द्र जायसवाल ने गोराबाजार थाने में संदीप की शिकायत कर दी। शिकायत की जांच प्रधान आरधक ओझा को मिली। जांच के दौरान गोरा बाजार थाने में पदस्थ उर्मेलेश ओझा ने संदीप से मामले की रफा-दफा कर जांच को उसके पक्ष में करने के लिए 50 हजार रुपए की मांग की। बाद में सौदा 40 हजार रुपए में तय हुआ।

रुपए दे दो बच सकते हो

राजेन्द्र जायसवाल की शिकायत पर प्रधान आरक्षक ने जांच शुरू कर दी। पहले दिन से ही रिश्वत की मांग शुरू हो गई। शुरुआत में एक लाख रुपए मांगे गए। जिस पर संदीप ने साफ मना कर दिया। बाद में पचास हजार रुपए की मांग आई। इस पर भी संदीप ने कहा कि बहुत ज्यादा रुपए है, इस पर उर्मेलेश ओझा का कहना था कि इससे कम नहीं होगा। आखिरकार 40 हजार में सौदा तय हुआ। गुरुवार की रात करीब साढ़े सात बजे जैसे ही प्रधान आरक्षक ने रिश्वत के 40 हजार रुपए लिए वैसे ही लोकायुक्त ने उसे पकड़ लिया।

आरोपी के साथी की भी होगी जांच

जबलपुर लोकायुक्त पुलिस ने गोरा बाजार थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक उर्मेलेश ओझा को गिरफ्तार किया है। डीएसपी दिलीप झरबड़े ने बताया कि बुधवार को प्रार्थी संदीप यादव ने कार्यालय में आकर शिकायत दर्ज करवाई थी कि गोरा बाजार थाने में दो प्रधान आरक्षक के द्वारा रिश्वत मांगी जा रही है। संदीप की शिकायत की जांच करने के बाद आज यह कार्रवाई की गई है। जबलपुर लोकायुक्त एसपी संजय साहू के निर्देश पर हुई कार्रवाई में डीएसपी दिलीप झरबड़े, निरिक्षक स्वपनिल दास,कमल उईक, नरेश बहरा सहित अन्य स्टाफ था।ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *