जीतू पटवारी का विवादित बयान: जीतू पटवारी बोले-अब इमरती जी का रस खत्म हो गया

 

PCC चीफ जीतू पटवारी का एक वीडियो सामने आया है। इसमें पूर्व मंत्री इमरती देवी को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में जीतू हंसते हुए कह रहे हैं- देखो ऐसा है,अब इमारती जी का रस खत्म हो गया है, जो अंदर चाशनी होती है, उनके लिए अब मैं कुछ बात नहीं कर रहा। इस बयान के बाद मध्यप्रदेश की सियासत में राजनीति गरमाई तो जीतू ने इमरती देवी से मांफी मांगी है। जीतू ने मीडिया से कहा कि मेरे बयान को गलत संदर्भ में लिया गया है। इमरती देवी मेरी बड़ी बहन हैं और बड़ी बहन मां के समान होती है। सवाल से बचना चाहता था…अगर किसी की भावनाएं आहत हुई हों तो मैं माफी मांगता हूं।

 

भाजपा नेता ने पटवारी पर साधा निशाना

भाजपा के मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल ने एक्स पर लिखा,”क्या पटवारी सोनिया गांधी व प्रियंका गांधी को इसी नजर से देखते हैं। ऐसा क्यों है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महिलाओं को अपमानित करने के लिए ऐसे शब्द ढूंढकर लाते हैं।

दिग्विजय सिंह को टंच माल और कमल नाथ को आइटम नजर आती हैं और उन्हीं का अनुशरण करते हुए पटवारी अनुसूचित वर्ग की महिला में रस और चाश्नी खोज रहे हैं। कांग्रेसियों का मूलचरित ही महिला विरोधी है। पटवारी की इस घृणित और निंदनीय मानसिकता पर प्रियंका गांधी क्या राय रखती हैं।

जीतू पटवारी ने भाजपा घोषणापत्र पर उठाए सवाल

बता दें कि जीतू पटवारी ने कांग्रेस और भाजपा की घोषणापत्र की तुलना करते हुए कहा, कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में पांच न्याय का वादा किया गया है। दूसरी तरफ प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लॉन्च किया गया भाजपा का घोषणापत्र है जिसकी हमने बहुत साली तस्वीरें देखी हैं, लेकिन ज्यादा चर्चा नहीं हुई है।

भाजपा हमारे घोषणापत्र की बात करती है, जबकि हम जनता के बारे में बात कर रहे हैं। भाजपा महज अपने लगभग 10 फीसद उद्योगपति मित्रों को ही संबोधित कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *