मरण दिन में बदली जन्मदिन पार्टी, फॉर्म हाऊस में हिस्ट्रीशीटर की हत्या, चार गिरफ्तार

29 अक्टूबर की रात फॉर्म हाऊस में एक दोस्त की पार्टी मनाने के लिए लोग एकत्र हुए थे. पार्टी सबाब पर थी. म्युजिक पर थिरकते लोग कई लोग नशे में धुत्त थे. इस पार्टी में राजस्थान का एक हिस्ट्रीशीटर दिलसुख जाट भी शामिल था. किसी बात एक युवक से उसकी कहासुनी हो गई. कहासुनी बहुत जल्द झगड़े में तब्दील हो गई. दूसरे पक्ष को हिस्ट्रीशीटर की बातें इतनी नागवार गुजरी को उसने अपने कई अन्य दोस्तों को बुला लिया. इसके बाद वो लोग लोहे के सरियों और लाठियों से दिलसुख जाट की पिटाई करने लगे. उन लोगों ने उसे इतना मारा कि घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई. इसके बाद सभी आरोपी वहां से भाग खड़े हुए हैं. इस वारदात के बाद इलाके में सनसनी फैल गई.

हिस्ट्रीशीटर दिलसुख जाट की हत्या राजस्थान के चुरू जिले रतनगढ़ थाना इलाके के सेहला स्थित एक फॉर्म हाउस में हुई. वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई. इस मामले में केस दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई. पुलिस को कुल आठ आरोपियों की तलाश थी, जिसमें से चार आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं. अन्य नामजद आरोपियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है, लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली है. सीआई सुभाष बिजारणियां ने बताया कि मृतक दिलसुख जाट के भाई मनोज जाट द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर पुलिस ने केस दर्ज किया है. पुलिस की दो टीमें अलग-अलग स्थानों पर आरोपियों की तलाश में लगातार दबिश दे रही हैं.

सीआई सुभाष बिजारणियां के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए आरोपियों में राजेंद्र पुत्र साबू सिंह सेहला, गंगा सिंह पुत्र राजेंद्र सिंह, राहुल सिंह पुत्र मनोहर सिंह, अजय सिंह पुत्र सुरेंद्र सिंह निवासी रतनगढ़ शामिल हैं. चारों आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है. बताते चलें कि राजस्थान के चुरू जिले में सबसे अधिक आपराधिक घटनाएं होती हैं. यहां कई सनसनीखेज मर्डर केस पहले भी हो चुके हैं. इनमें प्रदीप स्वामी मर्डर केस, सुमेर फगेड़िया मर्डर केस, वीरेंद्र न्यांगली मर्डर केस, अजय जैतपुरा मर्डर केस शामिल है. इन सभी वारदातों ने चुरू ही नहीं पूरे सूबे को झकझोर दिया था. पुलिस की माने तो इनमें ज्यादातर वारदात गैंगवार और आपसी रंजिश में हुए हैं.

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो यानी एनसीआरबी की रिपोर्ट की माने तो राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप के मामले सामने आए हैं. साल 2021 में देश में रेप के सबसे अधिक मामले राजस्‍थान में दर्ज किए गए थे, जो कि साल 2020 की तुलना में 19 फीसदी ज्यादा थे. रिपोर्ट में बताया गया था कि साल 2021 में देश भर में दर्ज कुल 31677 रेप केस में से 6337 राजस्थान में थे, जबकि 2845 रेप के मामले उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए थे. साल 2020 में राजस्थान में रेप के दर्ज मामले 5310 थे. इस रिपोर्ट के आने के बाद राजस्थान सरकार ने दावा किया था मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तरफ से सख्त निर्देश है कि हर मामले में एफआईआर दर्ज की जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *