ED ने दिल्ली पुलिस से कहा- सोरेन को खोजकर लाएं:24 घंटे से झारखंड सीएम लापता

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दिल्ली पुलिस से कहा है कि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को खोजकर लाएं। मंगलवार 30 जनवरी को टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट में ये बात सामने आई है। हेमंत सोरेन बीते 24 घंटे से कहां है, इसकी किसी को जानकारी नहीं है।

सोमवार 29 जनवरी की सुबह 7 बजे ईडी की टीम सोरेन के दिल्ली आवास पहुंची थी, जहां वे नहीं मिले वहीं। मंगलवार सुबह भी सीएम हाउस के सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री नहीं लौटे हैं।

इस बीच, रांची के मुख्यमंत्री आवास में सत्ताधारी दलों के विधायकों की अहम बैठक होने वाली है। बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मौजूद रह सकते है। कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद ने 29 जनवरी की रात मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि बैठक में सीएम मौजूद रहेंगे।

सोमवार देर रात करीब दो घंटे तक सत्ता पक्ष विधायकों की बैठक हुई। इसमें विधायकों को रांची में रहने का निर्देश दिया गया है। आज होने वाली बैठक अहम मानी जा रही है, क्योंकि इस बैठक में राज्य के राजनीतिक भविष्य को लेकर चर्चा होगी। इधर, 31 जनवरी को 1 बजे हेमंत सोरेन ने ED को पूछताछ के लिए वक्त दिया है।

भाजपा संवैधानिक संस्थाओं का दुरुपयोग कर रही- जेएमएम
झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) ने बयान जारी कर कहा- जब से झारखंड में आदिवासी युवा हेमंत सोरेन के कुशल नेतृत्व में गठबंधन सरकार बनी है, तब से केंद्र सरकार और भाजपा सरकार गिराने की साजिश रच रही है। तमाम राजनीतिक कोशिशों के बाद अब केंद्र और भाजपा संवैधानिक संस्थाओं का दुरुपयोग कर रहे हैं।

सीएम को किसी ने अगवा नहीं किया- अंबा प्रसाद
जमीन घोटाले में घिरे झारखंड के मुख्यमंत्री सोरेन से पूछताछ करने ED सोमवार को उनके दिल्ली स्थित आवास पर पहुंची थी। हालांकि, वे यहां नहीं मिले। जांच एजेंसी यहां जरूरी कागजात खंगालने के बाद देर रात वहां से निकल गई। इधर, सीएम हाउस में कल रात महागठबंधन के विधायकों की बैठक हुई।

कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद ने कहा कि सीएम हेमंत सोरेन मंगलवार को आप सभी के सामने होंगे। बैठक में कोई खास बात नहीं हुई। मंगलवार को भी बैठक बुलाई गई है। ऐसा नहीं है कि सीएम का किसी ने अपहरण कर लिया है। यह बदले की राजनीति है।

उन्हें (भाजपा को) बस किसी तरह से सत्ता में आना है। कांग्रेस विधायक विक्सल कोंगडी ने कहा, हम सीएम आवास आए थे। कोई खास बातचीत नहीं हुई। सभी ने साथ बैठकर चाय पी। कल (मंगलवार, 30 जनवरी) फिर दो से तीन बजे के बीच बैठक हो सकती है। सभी विधायकों को रांची में रहने का निर्देश दिया गया है। कल बैठक तय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *