चुनाव का प्रचार करने गए कांग्रेस प्रत्याशी के भाई पर फायरिंग, चार पर केस दर्ज

लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी सत्यपाल सिंह सिकरवार के चचेरे भाई नरेंद्र सिंह सिकरवार पर जानलेवा हमला हो गया। इतना ही नहीं हमलावरों ने नरेंद्र पर फायरिंग भी की। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की सूचना पर पुलिस दल-बल के साथ मौके पर पहुंची और कार्यकर्ताओं को अपने साथ सुरक्षित थाने लेकर आई। मामला मुरैना के अंबाह थाना क्षेत्र के रुअर गांव का है। पुलिस ने चार आरोपियों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है। चचेरे भाई पर फायरिंग की घटना को कांग्रेस प्रत्याशी सत्यपाल सिंह सिकरवार ने लोकतंत्र पर हमला बताया है।

गांव में घुसने से रोका और कर दिया फायर
जानकारी के मुताबिक, शनिवार दोपहर को नरेंद्र सिंह सिकरवार अपने साथियों के साथ कांग्रेस का प्रचार कर रहे थे। रुअर गांव में प्रवेश करने के दौरान आरोपी सोनू तोमर अपने भाई और अन्य दो लोगों के साथ पहुंच गया। उसने गांव के ही पूर्व सरपंच गुड्डू तोमर पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसके बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। हमले में कोई घायल नहीं हुआ है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की सूचना पर पुलिस पहुंची और सभी को सुरक्षित थाने लेकर आई।

पुलिस ने इनके खिलाफ दर्ज किया केस
रुअर गांव के रहने वाले कांग्रेस नेता गुड्डू तोमर की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी सोनू तोमर, उसका भाई गब्बर तोमर, अभिषेक उर्फ भोला तोमर और अमन तोमर पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। बता दें कि मुख्य आरोपी सोनू तोमर और उसके भाई गब्बर सिंह तोमर पर पहले से ही हत्या के प्रयास समेत कई मामले में केस दर्ज हैं।

आरोपी पक्ष के लोगों ने कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप
पुलिस का कहना है कि पहले इन दोनों के बीच विवाद हो चुका है। जिसको लेकर मामला दर्ज हुआ था। पुरानी रंजिश के कारण आरोपियों ने फायरिंग की घटना को अंजाम दिया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने टीम का गठन किया है। इधर आरोपी पक्ष के लोगों का कहना है कि सोनू तोमर पर फायरिंग करने का आरोप गलत है। सोनू तोमर के घरवालों ने पुलिस को बताया कि कांग्रेसियों ने उसके घर में लगे CCTV कैमरों को तोड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *