जबलपुर की पापुलर कंपनी में फूड प्वॉइजनिंग, एक की मौत:10-12 कर्मचारी बीमार

जबलपुर के मनमोहन नगर स्थित पापुलर फूड कंपनी में काम करने वाले एक दर्जन से अधिक मजदूर फूड प्वॉइजनिंग का शिकार हो गए। इसमें एक कर्मचारी की मौत हो गई, जबकि 10 से 12 बीमार है। सभी लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बताया जाता है कि फूड प्वॉइजनिंग के बाद बीमार कर्मचारियों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां रास्ते में एक कर्मचारी की मौत हो गई। फैक्ट्री मालिक ने पुलिस को मौत की जानकारी दिए बिना ही उसके शव को उत्तरप्रदेश उसके घर भेज दिया। शनिवार की शाम को जैसे ही गोहलपुर थाना पुलिस को जानकारी मिली तो फूड विभाग की टीम के साथ फैक्ट्री पहुंची और जांच शुरू की। शव को भी यूपी से वापस बुलवाया लिया है।

फूड प्वॉइजनिंग के बाद जबलपुर अस्पताल में कर्मचारियों का इलाज चल रहा है। बताया जाता है कि कर्मचारियों की हालत खतरे से बाहर है।
फूड प्वॉइजनिंग के बाद जबलपुर अस्पताल में कर्मचारियों का इलाज चल रहा है। बताया जाता है कि कर्मचारियों की हालत खतरे से बाहर है।

उल्टी-दस्त की शिकायत पर कराया भर्ती

गोहलपुर थाना के मनमोहन नगर स्थित पापुलर फूड कंपनी में काम करने वाले 10-12 कर्मचारयों को उल्टी-दस्त होने पर फैक्ट्री मालिक तुलसीदास केसवानी ने बीमारों को सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए भिजवाया। वहीं मृतक कर्मचारी शिवम कश्यप के शव को यूपी के लिए रवाना कर दिया। इस घटना की जानकारी लगते ही मौके पर पहुंची पुलिस कर्मचारियों से जानकारी जुटा रही है। फूड विभाग की टीम ने फैक्ट्री के सैंपल लिए हैं। पापुलर फूड फैक्ट्री तुलसीदास केसवानी और सुमित केसवानी की है। यहां ब्रेड, टोस और केक बनाए जाते है। पुलिस की जांच में यह भी मिला है कि फैक्ट्री में नाबालिग लड़के भी काम कर रहे थे।

फैक्ट्री मालिक तुलसीदास केसवानी का कहना है कि आज सुबह फैक्ट्री में काम करने वाले कर्मचारियों की तबीयत बिगड़ी थी। सभी को उल्टी-दस्त की शिकायत थी। इलाज के लिए मनमोहन नगर अस्पताल ले जाया जा रहा था, रास्ते में शिवम कश्यप की मौत हो गई। फैक्ट्री मालिक का कहना है कि ठेकेदार ने शव को उसके परिवार वालों के पास उत्तरप्रदेश भिजवा दिया है। फैक्ट्री मालिक ने इस पूरे मामले को दबाने की भी कोशिश की, और बिना पुलिस- प्रशासन की जानकारी दिए शव को भिजवा दिया।

पापुलर फूड कंपनी के कर्मचारी का अस्पताल में इलाज चल रहा है।
पापुलर फूड कंपनी के कर्मचारी का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

टीआई का कहना है कि फैक्ट्री में हुई घटना संदेह के घेरे में है, क्योंकि बिना जानकारी के ही शव को उसके घर उत्तरप्रदेश भिजवाया गया था। टीआई में बताया कि शव को वापस जबलपुर बुलवाया जा रहा है। रविवार को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा और रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *