भड़काऊ भाषण केस, मुफ्ती अजहरी को गुजरात ले गई ATS:हंगामा कर रहे समर्थकों पर लाठीचार्ज; हिन्दू संगठनों की शिकायत पर हुई कार्रवाई

भड़काऊ भाषण केस में आरोपी मुफ्ती सलमान अजहरी को रविवार को गुजरात ATS दो दिन के ट्रांजिट रिमांड पर जूनागढ़ ले गई। मौलाना पर 31 जनवरी को जूनागढ़ में एक कार्यक्रम के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में हिन्दू संगठनों ने केस दर्ज करवाया था।

गुजरात ATS ने मुंबई की एक अदालत में मुफ्ती सलमान अजहरी की रिमांड मांगी थी। कोर्ट ने रविवार शाम को दो दिन की ट्रांजिट रिमांड मंजूर कर ली। इसके बाद कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के लिए उसे घाटकोपर पुलिस थाने लाया गया था।

रात एक बजे मौलाना के हजारों समर्थकों ने उसकी रिहाई के लिए घाटकोपर थाने का घेराव किया। हंगामा बढ़ता देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। रात 2 बजे गुजरात ATS मौलाना को लेकर जूनागढ़ रवाना हाे गई। लेकिन पुलिस अभी जूनागढ़ पहुंची नहीं है। फिलहाल ATS के अहमदाबाद ऑफिस में मौलाना को रखा गया है।

31 जनवरी को मौलाना ने जूनागढ़ के बी’ डिवीजन पुलिस थाने के पास एक कार्यक्रम में कहा था- कुछ देर की खामोशी है फिर शोर आएगा, आज कुत्तों का वक्त है, कल हमारा दौर आएगा। हिन्दू संगठनों ने इस बयान पर नाराजगी जताते हुए मौलाना पर धारा 153A, 505, 188, 114 के तहत मामला दर्ज किया था।

पुलिस स्टेशन से मुफ्ती की अपील
रविवार देर रात जब हजारों समर्थकों ने घाटकोपर पुलिस स्टेशन को घेरा तो मौलाना ने माइक से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा- न तो मैं अपराधी हूं, न ही मुझे अपराध करने के लिए यहां लाया गया है। पुलिस अधिकारी जांच कर रहे हैं और मैं उनका सहयोग कर रहा हूं। अगर यह मेरे भाग्य में होगा तो मैं गिरफ्तार होने के लिए तैयार हूं।

मुंबई पुलिस के DCP हेमराजसिंह राजपूत ने कहा- मुंबई में शांति है, घाटकोपर इलाका भी शांतिपूर्ण है। मैं मुंबई के लोगों को बताना चाहता हूं कि उनके लिए पुलिस सड़क पर है। किसी भी अफवाह पर विश्वास न करें।

मुफ्ती का दावा- मेरे बयान में कहीं भी हिंदू शब्द नहीं
पुलिस की कार्रवाई पर मुंबई के मुफ्ती ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सफाई दी थी। अजहरी की तरफ से लिखा गया है कि BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने हमारे बयान पर ट्वीट किया है और कहा है कि हम हिंदुओं के खिलाफ नफरत फैलाने का काम करते हैं।

बयान में एक कविता का जिक्र है जिसे आपको ध्यान से सुनना चाहिए। उसमें कहीं भी हिंदू शब्द नहीं है। BJP प्रवक्ता त्रिवेदी ने इसमें जबरन हिंदू शब्द डाला है और हिंदुओं को कुत्ता कहा है, इसलिए सभी हिंदुओं को इस नफरत फैलाने वाले प्रवक्ता के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

मुफ्ती के वकील ने कहा- कानून का पालन नहीं हुआ
मुफ़्ती सलमान अजहरी के वकील वाहिद शेख ने मीडिया को बताया- रविवार को अजहरी के आवास पर लगभग 35-40 पुलिसकर्मी इकट्‌ठा हुए। मुफ्ती साहब ने पुलिस के साथ सहयोग किया। हमें बताया गया कि उनके खिलाफ भड़काऊ भाषणा के आरोप में धारा 153 बी के तहत मामला दर्ज किया गया है।

गिरफ्तारी के वायरल वीडियो पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि- उनके द्वारा दिए गए भाषण में किसी भी धार्मिक भावना को ठेस नहीं पहुंचाई गई। कोई भी उकसाने वाला बयान नहीं दिया गया है। विश्व हिन्दू परिषद (VHP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने पुलिस स्टेशन के बाहर प्रदर्शन किया, जिसके चलते मुकदमा दर्ज किया गया।

हरियाणा के पलवल जिले के पोंडरी गांव (नूंह बॉर्डर) में हुई सर्वजाति हिन्दू महापंचायत में आपत्तिजनक भाषण देकर दो समुदायों के बीच विवाद- नफरत पैदा करने के आरोप में पुलिस ने केस दर्ज किया है। हथीन थाना पुलिस ने मिंडकोला चौकी प्रभारी की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर उनकी वीडियो में पहचान की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *