आदिवासी युवक को पीटने के बाद मुर्गा बनाने की पड़ताल:घटनाक्रम के 4 किरदार; पीड़ित ने बताई थाने नहीं जाने की वजह

बैतूल में आदिवासी युवक को पीटने के बाद मुर्गा बनाया गया। वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस ने इस मामले में तत्काल जांच और कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर दो को गिरफ्तार कर लिया है।

मुख्य आरोपी बजरंग दल के नर्मदापुरम संभाग का सह संयोजक चंचल राजपूत को बनाया गया है। वहीं, सह आरोपी चंदन सिंह को बनाया। सोमवार को पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश किया, जहां से चंदन को जमानत मिल गई।

7 फरवरी की रात करीब 12 बजे बैतूल के बस स्टैंड पर जमकर हंगामा हुआ। हिंदू संगठन के एक पदाधिकारी की कुछ लोगों ने जमकर पिटाई की थी। चीख-पुकार मची तो हिंदू संगठन के कुछ साथी वहां पहुंचे। पिटने वाले को वहां से लेकर चले गए। 8 फरवरी को पिटाई का यह वीडियो वायरल हो गया। वीडियो अंधेरे में बनाया गया था, इसलिए पिटाई करने वाले और पिटने वाले दोनों के चेहरे साफ नजर नहीं आ रहे थे।

लगा कि यह बात यहीं पर खत्म हो गई, लेकिन 11 फरवरी को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने आदिवासी युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया। उन्होंने प्रदेश में आदिवासी अत्याचार की बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री मोहन यादव के शासन पर सवाल उठाए।

आनन-फानन में पीड़ित युवक की तलाश की गई। रात में ही कांग्रेस के पूर्व विधायक निलय डागा उसे लेकर थाने पहुंच गए। यहां पता चला कि वह तो आदिवासी है। उसके साथ बजरंग दल के नर्मदापुरम संभाग के सह संयोजक चंचल राजपूत ने मारपीट की है। पुलिस ने सोमवार को चंचल राजपूत और उसके साथी चंदन सिंह बग्गा को गिरफ्तार किया। बाद में एट्रोसिटी कोर्ट से दोनों को जमानत मिल गई।

दो मामलों में 7 आरोपी

कोतवाली पुलिस ने 7 फरवरी की रात हुए घटनाक्रम पर 8 फरवरी को बजरंग दल के नर्मदापुरम संभाग के सह संयोजक चंचल पिता यादव सिंह राजपूत की शिकायत पर गुल्लू चित्रार, अंकित चितरार, नंदी झरबड़े और नावेद खान के खिलाफ केस दर्ज किया था।

घटनाक्रम के दो दिन बाद यानी रविवार रात में पुलिस ने आदिवासी युवक के साथ मारपीट के आरोप में बजरंग दल के चंचल राजपूत, चंदन सिंह बग्गा और कारण उर्फ डैन पवार के खिलाफ SC/ST एक्ट के तहत केस दर्ज कर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

पीड़ित युवक ने शपथ पत्र के जरिए कोर्ट में कहा कि चंदन सिंह घटनाक्रम में शामिल नहीं था। पुलिस ने जिन्हें पकड़ा है, वो मेरे पिताजी के दोस्त हैं।

शनिवार रात की घटना का वीडियो रविवार को सामने आया। इसमें दिख रहा है कि बैतूल के सबसे व्यस्ततम लल्ली चौक पर एक युवक के सामने आरोपी आदिवासी युवक के चेहरे पर लात-घूंसे मार रहा है। गाली-गलौज कर रहा है। पीड़ित छोड़ने के लिए गिड़गिड़ाता रहता है। पैर पड़ता है, लेकिन आरोपी उसकी नहीं सुनता। उसे मारना जारी रखता है।

इसी बीच, पीछे से किसी की आवाज आती है। वह युवक को मुर्गा बनने के लिए कहता है। युवक मुर्गा बन जाता है। मुर्गा बनने के बाद भी आरोपी उसकी पीठ पर हाथ की कोहनी से मारता है, तभी उसका साथी उसे मारने से रोकता है, लेकिन वह नहीं रुकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *