जबलपुर में बोले डिप्टी सीएम राजेंद्र शुक्लः कांग्रेस के नेता-नीति-नियत पर है ?, धरातल से खत्म हो चुकी है ये पार्टी

मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पूर्व मंत्री जीतू पटवारी को कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बनाया है। ऐसे में अब जबकि कांग्रेस ने एक युवा नेता को प्रदेश की जिम्मेदारी दी है, तो उसे पर अब भाजपा ने तंज कसना शुरू कर दिया है। मध्य प्रदेश के डिप्टी सीएम राजेंद्र शुक्ल ने कहा कि कांग्रेस पहले भी दावा कर रही थी कि प्रदेश में उनकी सरकार बन रही है, लेकिन जब नतीजे आए तो उनकी सीट आधी हो गई। धरातल से अब कांग्रेस का कनेक्शन कट गया है। कांग्रेस के नेता, नीति और नियत पर अब सवा भी उठने लगे है। डिप्टी सीएम ने कहा कि कांग्रेस के नेताओं में अब किसी भी तरह का असर नहीं दिख रहा है। उन्होंने कहा कि इससे पहले जब 15 माह तक कांग्रेस की प्रदेश में सरकार थी, उस दौरान उन्होंने सारी जनहित ऐसी योजनाएं बंद कर दी थी जिसके चलते ही जनता ने उन्हें पूरी तरह से नकार दिया है।

एक दिवसीय दौरे पर जबलपुर आए डिप्टी सीएम से जब मंत्रिमंडल का गठन होने के बाद अभी भी मंत्रियों को विभाग नहीं बांटे गए हैं, इस पर सवाल किया गया तो डिप्टी सीएम ने सफाई दी है। उन्होंने कहा कि यह उनका नहीं सीएम का क्षेत्र है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और संगठन ही इस पर निर्णय लेने का काम करते है। संगठन उनके बारे में कुछ ना कुछ फैसला जरूर करेगा। जल्द ही सभी मंत्रियों को विभाग का बंटवारा होगा।

 

डायरेक्ट बेनिफिट स्कीम और लाडली बहन के बारे में बोलते हुए मध्य प्रदेश के उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव यह स्पष्ट कर चुके हैं कि लाड़ली बहना योजना बंद नहीं की जाएगी। वहीं डायरेक्ट बेनिफिट स्कीम के तहत लोगों को दी जाने वाली मदद के बारे में राजेंद्र शुक्ल का मानना है कि अभी भी समाज के वंचित और गरीब लोगों को मदद की जरूरत है और उन्हें यह मदद जारी रहना चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *