कृति सेनन बोलीं- शाहिद ने कभी सीनियॉरिटी नहीं दिखाई:सेट पर माहौल बनाकर रखते थे; एक्टर बोले- ये मुझे तू-तड़ाक करके बात करती थीं

शाहिद कपूर ने कहा कि वो एक्शन और इंटेंस फिल्म करके थक गए थे। उन्हें कुछ अलग करना था, इसलिए ‘तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया’ फिल्म में काम किया है। उन्हें रोमांटिक और कॉमेडी फिल्म करने का मन कर रहा था। शाहिद ने कहा कि उन्हें फिल्म का टॉपिक थोड़ा अलग और हटके लगा था। कृति ने कहा कि उन्हें शुरुआत में पता नहीं था कि यह रोबोटिक फिल्म होने वाली है।

कृति ने शाहिद के साथ काम करने का एक्सपीरियंस भी शेयर किया। उन्होंने कहा कि शाहिद ने कभी यह फील नहीं कराया कि वो सीनियर हैं। वो सेट पर हमेशा फनी माहौल बनाकर रखते थे। शाहिद ने मजाकिया अंदाज में कहा कि कृति उन्हें तू-तड़ाक करके बात करती थीं।

पहले आइडिया पसंद नहीं आया, बाद में स्टोरी सुन भौचक्के रह गए शाहिद कपूर
शाहिद कपूर ने कहा कि पिछले कुछ सालों से वो एक्शन और इंटेंस फिल्में कर रहे थे। इसलिए काफी वक्त से रोमांटिक और कॉमेडी फिल्में करना चाह रहे थे। उन्होंने कहा, ‘एक एक्टर के तौर पर चाह रहा था कि कुछ अलग करूं। फिल्म का ऑफर आया तो सबसे पहले यह समझा कि इसमें नया क्या है।

आइडिया सुनने के बाद लगा कि यह मुझे क्या बताया जा रहा है? कॉन्सेप्ट समझ में नहीं आया। क्या रियल लाइफ में ऐसा पॉसिबल है? हालांकि जब मैंने पूरी स्टोरी सुनी तो भौचक्का रह गया। हम टेक्नोलॉजी से घिरे हुए हैं। एक व्यक्ति आज खुद से ज्यादा वक्त अपने फोन को देता है। आज से 15 साल पहले तक इंटरनेट नहीं था। आज बिना इंटरनेट के कोई काम नहीं होता है। हो सकता है कि आने वाले 15 साल में टेक्नोलॉजी और आगे बढ़ जाए। मुझे फिल्म की कहानी बहुत अलग और फ्रेश लगी थी। इसके अलावा फिल्म में एक मैसेज भी है, वो आपको इसे देखने के बाद ही पता चलेगा।

भविष्य में रोबोट हमारे आस-पास भी घूमते दिख सकते हैं- कृति
कृति सेनन ने कहा कि शुरुआत में उन्हें यह नॉर्मल लव स्टोरी वाली फिल्म लगी थी। बाद में पता चला कि इसमें उनका रोबोटिक किरदार होने वाला है। उन्होंने कहा, ‘आज हम AI के युग में जी रहे हैं। आने वाले समय में हो सकता है कि रोबोट हमारे आस-पास घूमें और हमें पता ही न चले। फिल्म की कहानी यूनिक लगी, इसलिए मैंने हामी भर दी।’

शाहिद के सामने अगर एक खूबसूरत सी रोबोट आ जाए, तो क्या करेंगे? उन्होंने कहा- मैं अपनी बीवी से कहूंगा कि उसे किसी काम में लगा दे। वो तो हमारे ऊपर है कि हम उससे कैसा काम कराएंगे।

शाहिद सीनियर हैं, लेकिन कभी फील नहीं होने दिया
शाहिद कपूर के साथ काम करना कैसा रहा? इसके जवाब में कृति सेनन ने कहा- शाहिद इंडस्ट्री में मेरे सीनियर हैं। हालांकि, उन्होंने मुझे कभी यह फील नहीं कराया। वो हमेशा चिल रहते थे। सेट पर काफी अच्छा माहौल बनाकर रखते थे। शाहिद को मैं इनकी पहली फिल्म से ही देख रही हूं। इनके इंटरव्यूज देखती हूं तो सोचती हूं कि यह आदमी कितना इंटेलिजेंट है। हम दोनों दिल्ली के रहने वाले हैं, इसलिए एक कनेक्शन भी है।

कृति ने कहा कि उन्हें शाहिद कपूर की इश्क विश्क, कमीने, हैदर और जब वी मेट जैसी फिल्में बहुत पसंद हैं।

शाहिद ने कहा- कृति के अंदर इनसिक्योरिटी नहीं
शाहिद कपूर ने भी कृति सेनन के साथ काम करने का एक्सपीरियंस शेयर किया। उन्होंने कहा- कृति यहां तो मुझे सीनियर कह रही हैं, लेकिन सेट पर तू-तड़ाक कहकर बुलाती थीं। खैर, यह मजाक वाली बात हो गई। मैंने कृति को पहली बार किसी अवॉर्ड शो में देखा था। उस दिन इन्होंने साड़ी पहनी थी। मैंने देखते ही कहा कि यह कितनी सुंदर लड़की है। इसके बाद हम लोग काफी बार मिले। एक बार किसी फंक्शन में कृति ने मुझे टाइट हग किया। उस दिन मुझे लगा कि कृति सुंदर होने के साथ-साथ प्यारी भी बहुत हैं।

जहां तक बात साथ काम करने की है, कृति हमेशा से काफी को-ऑपरेटिव रही हैं। उनके दिल में पर्सनल एजेंडा नहीं है। उन्हें किसी तरह की इनसिक्योरिटी भी नहीं है। वो बहुत चिल और रिलैक्स रहने वाली इंसान हैं। उनके अंदर कॉम्पिटिशन की भावना भी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *