मेडिकल डीन बोली आयुष्मान योजना काम नहीं करूंगी जो बने कर लो

कर्मचारी पहुंचे थे ज्ञापन लेकर
जबलपुर। नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल अस्पताल की डीन डॉक्टर गीता गुईन द्वारा अब खुले तौर पर यह कहा जाने लगा कि वह आयुष्मान योजना को लेकर कोई काम नहीं करेगी। इस विवाद से दूर रहना चाहती हूं। यह बात डीन ने कर्मचारियों द्वारा ज्ञापन सौंपने के दौरान कही। डीन के इस बर्ताव को लेकर मेडिकल कॉलेज से लेकर अस्पताल तक चर्चाओं का दौर है। इस तरह से एक जिम्मेदारी अधिकारी ऐसी बयानबाजी कैसे कर सकता है इस बारे में कर्मचारी भी हैरान है। मालूम हो कि पिछले कुछ माह से आयुष्मान योजना के तहत कर्मचारियों को मिलने वाली राशि को लेकर मेडिकल अस्पताल और कॉलेज में हो हल्ला मचा हुआ है। कुछ वरिष्ठ अधिकारी डॉक्टरों को आयुष्मान येाजना की ज्यादा राशि देना चाहते हैं तो वहीं इसका विरोध कर्मचारी कर रहे हैं।
बताया जा रहा है कि मेडिकल के कर्मचारी आयुष्मान योजना के तहत मिलने वाली राशि का सही बंटवारे को लेकर डीन से मुलाकात करने पहुंचे थे परंतु डीन ने जब कर्मचारियों को देखा तो वह उखड़ गई उनका कहना था कि वह अपने हिसाब से काम करेगी, इसमें कोई दवाब नहीं बना सकता है। डीन का कहना था कि देखने में आ रहा है कि राशि को लेकर विवाद किया जा रहा है, बेवजह ही अधिकारियों को बदनाम किया जा रहा है।

मीडिया को बुलवा लो, करूंगी मन का
सूत्रों का कहना है कि डीन ने कर्मचारियों के सामने यह तक कह डाला कि मीडिया वाले आपके खास है उनको बुलवा लो, मुझे नौकरी से निकलवा दो। डीन की यह बात सुनकर कर्मचारी हैरान हो गए। डीन साफ तौर पर कह रही थी कि वह किसी दवाब में आकर काम नहीं करेगी चाहे उनकी नौकरी चले जाए।

कर्मचारियों की ये है मांग
आयुष्मान प्रभारी द्वारा चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा दिये गये नियमो एवं बी.सी. में बार-बार बोला गया कि आयुष्मान का लाभ आयुष्मान से संबंधित कार्य कर रहे कर्मचारी को ही नियअनुसार वितरण किया जाये किन्तु महोदया जी इन नियमो को ताक में रखते हुए आयुष्मान प्रभारी द्वारा संस्था प्रमुख को अंधेरे में रखते हुए सुपरवाइजर के रुप मे एक मुस्त राशि लिपिकीय वर्ग को दी जा रही है जिसमे चिन्हित कर अधिष्ठाता कार्यालय ही में पदस्थ 8 कर्मचारियो के नाम नही जोड़े गये है जो कि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *