MP में कांग्रेस ने 4 सीटों पर प्रत्याशी बदले:बड़नगर, सुमावली में विधायकों को उतारा, पिपरिया और जावरा में नए कैंडिडेट

मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने चौथी सूची जारी कर 4 सीटों पर प्रत्याशी बदल दिए हैं। तीन बार में 230 प्रत्याशियों की घोषणा के बाद हो रहे विरोध, प्रदर्शन और बगावत को देखते हुए पार्टी ने ये फैसला लिया है।

कांग्रेस ने सुमावली (मुरैना) में कुलदीप सिकरवार की जगह मौजूदा विधायक अजब सिंह कुशवाह, पिपरिया (नर्मदापुरम) में गुरुचरण खरे की जगह वीरेंद्र बेलवंशी, बड़नगर (उज्जैन) में राजेंद्र सिंह सोलंकी की जगह विधायक मुरली मोरवाल और जावरा (रतलाम) में हिम्मत श्रीमाल की जगह वीरेंद्र सिंह सोलंकी को उम्मीदवार बनाया है।

इससे पहले दूसरी सूची में कांग्रेस ने 3 प्रत्याशी (नरसिंहपुर जिले की गोटेगांव, शिवपुरी जिले की पिछोर और दतिया सीट) बदले थे। इस तरह से कांग्रेस 7 सीट पर प्रत्याशी बदल चुकी है।

सुमावली: अजब सिंह कुशवाह ने बसपा जॉइन कर ली थी

इस विधानसभा सीट पर मौजूदा विधायक अजब सिंह कुशवाह का टिकट काटकर कांग्रेस ने कुलदीप सिकरवार को प्रत्याशी बनाया था। इस फैसले के बाद अजब सिंह कुशवाह ने कांग्रेस छोड़कर बसपा जॉइन कर ली थी। विधायक के विद्रोही तेवरों को देखकर कांग्रेस ने फिर अजब सिंह कुशवाह को मौका दिया है। कुशवाह मौजूदा विधायक हैं।

 

पिपरिया: गुरुचरण को टिकट देने पर 12 दावेदार विरोध में थे

इस सीट पर कांग्रेस ने गुरुचरण खरे को उम्मीदवार घोषित किया था। उन्हें प्रत्याशी बनाए जाने के बाद से ही 12 स्थानीय दावेदार विरोध कर रहे हैं। गुरुचरण छिंदवाड़ा के रहने वाले हैं, इसी को मुद्दा बनाकर उनका विरोध किया जा रहा था। ऐसे में कांग्रेस ने यहां उम्मीदवार बदलकर पूर्व जनपद अध्यक्ष वीरेंद्र बेलवंशी को टिकट दिया है।

जावरा: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भोपाल तक जताया था विरोध

यहां कांग्रेस ने हिम्मत श्रीमाल को प्रत्याशी बनाया था। श्रीमाल का कांग्रेस के कई दावेदार विरोध कर रहे थे। इन्होंने भोपाल में भी मोर्चा खोल रखा था। इसी असंतोष को खत्म करने के लिए श्रीमाल को हटाकर वीरेंद्र सिंह सोलंकी को मौका दिया गया है।

बड़नगर: स्थानीय नेताओं के विरोध पर पलटा फैसला

उज्जैन जिले की बड़नगर सीट से कांग्रेस ने दूसरी लिस्ट में राजेंद्र सिंह सोलंकी का नाम घोषित किया था। बेटे पर रेप के आरोप की वजह से मुरली मोरवाल को टिकट गंवाना पड़ा था। लेकिन, स्थानीय नेताओं के विरोध के बाद पार्टी ने अपना फैसला पलटा है। यहां एक बार फिर मोरवाल पर विश्वास जताया गया है। मोरवाल मौजूदा विधायक हैं।

आमला सीट पर पेंच, निशा बांगरे बोलीं- टिकट नहीं मिला तो निर्दलीय लड़ूंगी

बैतूल जिले की आमला सीट से कांग्रेस ने तीसरी सूची में मनोज मालवे को उम्मीदवार बनाया है। यहां से पूर्व डिप्टी कलेक्टर निशा बांगरे दावेदारी कर रही हैं। वे आज कमलनाथ से भी मुलाकात कर सकती हैं। उन्होंने कहा है कि कमलनाथ से मिलकर उनका रुख पूछूंगी। टिकट नहीं मिलता है तो निर्दलीय चुनाव लड़ूंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *