आधी रात कदमों की आहट से दहशत:बेटे को बचाने आई मां पर बदमाश ने ताना कट्‌टा, शोर मचाते ही भागा

ग्वालियर के थाटीपुर में एक घर में आधी रात कुछ कदमों की आहट से दहशत फैल गई। घर के सदस्य ने जब आहट सुनी और बाहर निकलने का प्रयास किया तो पता लगा किसी ने दरवाजे पर बाहर से कुंडी लगा दी है। उसने दूसरी मंजिल पर मां का कॉल कर सावधान रहने और नीचे आकर कुंडी खोलने के लिए कहा। जैसे ही महिला, बेटे के रूम के दरवाजे पर पहुंची वहां एक नकाबपोश ने उस पर कट्‌टा तान दिया।

महिला कट्‌टा और बदमाश देखकर घबरा गई। तभी अचानक बदमाश के हाथ से कट्‌टा गिर गया तो महिला शोर मचाते हुए भागी। शोर होते ही आसपास के लोग एकत्रित हुए और बदमाश भाग गया। घटना बीती रात गल्ला कोठार थाटीपुर की है। पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है। आरोपी चोरी के इरादे से घर में घुसा था।

शहर के थाटीपुर थाना क्षेत्र स्थित गल्ला कोठार निवासी राहुल सिंह पुत्र दीवान सिंह एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करते हैं। बीती रात खाना खाने के बाद वह अपने कमरे में सो गए थे और अन्य परिजन भी अपने-अपने कमरे में सो गए थे। रात करीब पौने दो बजे कदमों की आहट होने पर उनकी नींद खुली और वह बाहर देखने के लिए गेट पर पहुंचे तो पता चला कि गेट बाहर से बंद था। इस पर उन्हें संदेह हुआ और राहुल ने दूसरी मंजिल पर रूम में सो रही अपनी मां उमादेवी को कॉल किया और बताया कि उसका गेट बाहर से बंद है और वह उसका गेट खोल दे, लेकिन सावधानी से आए, क्योंकि उसने कुछ कदमों की आहट सुनी है। इससे उमादेवी घबरा गईं, उनको लगा कि बेटे की कुंडी खोलना बहुत जरुरी है।
गेट खोलने से पहले आ धमका बदमाश
उमा देवी बेटे के कमरे का गेट खोलने के लिए नीचे आई और अभी वह गेट के पास पहुंचने वाली थी कि अचानक एक युवक उनके सामने आ गया और उन पर कट्टा तान दिया। अचानक हुई घटना से उमा देवी सहम गईं और आरोपी उनसे परिजन के बारे में पूछने लगा। इसी बीच अधेरा होने पर बदमाश का पैर फिसला और हाथ से कट्‌टा छूटकर गिर गयाद्ध जिस पर उमादेवी शोर मचाते हुए भाग निकलीं। शोर होते ही चोर भी भाग निकला। लोगों के एकत्रित होने के बाद उमा देवी ने सभी परिजन के गेट खोले और पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू कर दी।
आसपास की सर्चिंग, कोई नहीं मिला
पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से चोर की तलाश की, लेकिन चोर हाथ नहीं आया है। अब पुलिस आस-पास लगे CCTV कैमरे खंगाल रही है, जिससे चोर का सुराग लगाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *