JABALPUR NEWS: – उत्तर विधानसभा में पोस्टर वॉर:बाहरी प्रत्याशी को लेकर टिकट नही तो वोट नहीं के लगे पोस्टर; भाजपा बोली- कांग्रेस का षड्यंत्र

जबलपुर में भाजपा के टिकट वितरण को लेकर कार्यकर्ताओं की नाराजगी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। वहीं अब उत्तर विधानसभा में जगह-जगह बाहरी प्रत्याशी नहीं चाहिए…टिकट नहीं तो वोट नहीं के पोस्टर लगा दिए गए हैं। जिसके बाद अब उत्तर मध्य विधानसभा में सियासी हल चल तेज हो गई है। हालांकि पूरे मामले में भाजपा का कहना है कि यह कांग्रेस पार्टी का षड्यंत्र है, जो पोस्टर चिपकाने का काम कर रही है।

गौरतलब है उत्तर मध्य विधानसभा से भाजपा के कई दावेदार टिकट मांग रहे थे, लेकिन अंतिम वक्त में पश्चिम विधानसभा से तैयारी कर रहे अभिलाष पांडे को उत्तर मध्य विधानसभा से प्रत्याशी बना दिया गया। दावेदार और उनके समर्थकों को जैसे ही यह जानकारी लगी कि बाहरी प्रत्याशी को उत्तर विधानसभा से टिकट दी गई है, तो उन्होंने जमकर हंगामा किया। इस दौरान जबलपुर संभागीय कार्यालय मे केन्द्रीय मंत्री के सामने विवाद भी हुआ। अब उत्तर विधानसभा में पोस्टर लगने से एक नया विवाद शुरु हो गया है। बहरहाल उत्तर मध्य के कार्यकर्ता अभी भी नाखुश हैं। उत्तर विधानसभा में रातों-रात पोस्टर लगा दिए गए। पोस्टर मे लिखा हुआ है कि ” नही चाहिए, बाहरी प्रत्याशी- टिकट नही, तो प्रत्याशी नही “

धीरज पटेरिया के निर्दलीय लड़ने की चर्चाएं शुरू

उत्तर मध्य विधानसभा से 2018 में धीरज पटेरिया ने निर्दलीय चुनाव लड़ा था। जहां उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपन बल दिखाया था। जिसका खामियाजा भाजपा को भुगतना पड़ा था और कांग्रेस के विनय सक्सेना जीत गए थे। वहीं धीरज पटेरिया ने फिर से भाजपा में वापसी की थी। उन्हें उम्मीद थी कि भाजपा उन्हें उत्तर मध्य विधानसभा से टिकट देगी। लेकिन उनकी जगह अभिलाष पांडे को उत्तर मध्य विधानसभा का प्रत्याशी बनाया गया। वहीं धीरज पटेरिया ने कुछ दिन पहले ही सोशल मीडिया में पोस्ट किया है कि वह अपनों के साथ मन की बात 28 अक्टूबर को शाम 4 बजे करेंगे। इसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि धीरज पटेरिया एक बार फिर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में उतर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *