PWD मंत्री भार्गव बोले:उन्होंने मुझ पर भी डोरे डालने की कोशिश की, मगर मैंने कहा-यह माल टिकाऊ है

अपनी बेबाक बयानबाजी को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले मप्र सरकार के पीडब्ल्यूडी मंत्री और रहली विधायक गोपाल भार्गव एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने मुझ पर भी डोरे डालने की कोशिश की। लेकिन मैंने कहा कि यह माल टिकाऊ है, बिकाऊ नहीं। दरअसल, विधानसभा चुनाव से पहले रहली विधानसभा क्षेत्र के ग्राम चौरई में करोड़ों रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया गया। कार्यक्रम में शामिल होने पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव पहुंचे। जहां उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 20 साल तक विपक्ष में रहा। कांग्रेस के दिग्विजय सिंह 10 सालों तक मुख्यमंत्री रहे। श्यामा चरण शुक्ल मुख्यमंत्री रहे, मोतीलाल वोरा मुख्यमंत्री रहे, मैं 20 साल विपक्ष में रहा। लेकिन आज कल तो आदमी जरा से में बिक जाते हैं।

गोपाल भार्गव के लिए भी उन्होंने डोरे डालने की कोशिश की तो मैंने कहा कि यह माल टिकाऊ है ये माल बिकाऊ नहीं है। ये उमा भारती की पार्टी का आदमी है। प्रहलाद जी और कल्याण सिंह की पार्टी के आदमी हैं हम लोग। इसके अलावा उन्होंने मंच से एक चुनाव और लड़ने की इच्छा जाहिर की। कार्यक्रम में मंत्री भार्गव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि 26 जनवरी 2024 से मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि जो अभी 12000 मिलती है, वह बढ़कर 24000 रुपए की जाएगी। जिससे कि हमारे किसान अपनी खेती का धंधा दोगुना कर सकेंगे।

ब्रिज के भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल हुए मंत्री भार्गव।
ब्रिज के भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल हुए मंत्री भार्गव।

749 लाख की लागत के ब्रिज का किया भूमिपूजन
कार्यक्रम के दौरान मंत्री भार्गव ने ग्राम चौरई में 749 लाख रुपए की लागत से नदी पर बनने वाले ब्रिज का भूमि पूजन किया। साथ ही रानी अवंतीबाई मंगल भवन का लोकार्पण किया। गढ़ाकोटा तहसील के ग्राम चौरई व भटुआ टोला के बीच कैथ नदी बहती है। जिससे भटुआ टोला के निवासियों को मुख्यमार्ग (चौरई तक) आने जाने में बारिश के मौसम में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मार्ग पूर्णतः बंद हो जाता है। इसी को देखते हुए नदी पर ब्रिज का निर्माण कराया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *