सागर जेल में बंद सतीश ने कराया छोटू चौबे पर हमला!

एक सप्ताह से की जा रही थी प्लानिंग
जबलपुर।एक दिन पूर्व सेंट्रल जेल में दो बदमाशों के बीच वर्चस्व को लेकर लड़ाई हुई जिसमें की संजय सारंग नाम के बदमाश ने छोटू चौबे पर किसी नुकीली चीज से हमला कर दियां। इस पूरे मामले में सागर जेल में बंद कुख्यात बदमाश विजय यादव के भाई सतीश यादव का नाम सामने आया है। सूत्रों का कहना है कि सतीश यादव ने अपने गुर्गें से यह हमला कराया है। 13 मई को छोटू चौबे का जन्मदिन था जिसके चलते जेल के सारे कैदी उसके साथ बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे थे। जेल में छोटू द्वारा गांजा पार्टी आयोजित की गई थी इसी बीच संजय सारंग जो कि कहीं ना कहीं सतीश यादव गैंग से जुड़ा हुआ था वह उठा और उसने छोटू के कान के पास ब्लेड से वार कर दिया इसके बाद छोटू लहू लुहान हो गया।

नाई की ब्लेड बनी हथियार
सामान्यत यह देखा जाता है की जेल की सुरक्षा व्यवस्था इतनी तेज होती है कि बड़े-बड़े गैंगस्टर जेल के अंदर हथियार ले जाने की तो सोच भी नहीं सकते परंतु बाल काटने वाले नई जब कैदियों के कटिंग करने जेल के अंदर आते हैं तो होशियार कैदियों द्वारा नाई की कैंची और ब्लेड को बड़ी होशियारी से चोरी कर लिया जाता है और इसी को हथियार बनाकर कैदी एक दूसरे पर हमला करते हैं।वहीं इस घटना से जेल की सुरक्षा को लेकर एक बार फिर सवाल उठ गए है। दरअसल जेल की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था किए जाने का दावा किया जाता है। दावा तो यहां तक किया जाता है कि कोई कैदी अंदर सुई तक नहीं ले जा सकता लेकिन सारंग के पास ब्लेड कैसे पहुंची जबकि इसके पहले भी इस तरह की घटनाएं हो चुकी है उसके बावजूद यह चूक कैसे हुई इसकी जांच की जा रही है।

सारंग ने छोटू का काट दिया कान
जानकारी के मुताबिक केंद्रीय जेल में तिलवारा निवासी संजय उर्फ सारंग धारा 307 के अपराध में जेल में बंद है तो छोटू चौबे  हत्या, हत्या के प्रयास में सजा काट रहा। दोनों में वर्चस्व की भी लड़ाई है। सोमवार सुबह  पौने दस बजे छोटू चौबे का फोन आया था और वह फोन पर बात करने के बाद वापस अपनी बैरक में जा रहा था इसी   संजय सारंग और छोटू के बीच विवाद हुआ जो मारपीट तक पहुंच गया। सारंग ने एक लोहे की पट्टी से छोटू के कान पर हमला कर दिया। इस घटना में छोटू चौबे को चोट आई और उसे जेल अस्पताल में भर्ती कराया गया।
चौबे पर 29, संजय पर 10 से अधिक अपराध दर्ज-
बदमाश छोटू चौबे खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, बलवा, अवैध वसूली, आर्म्स एक्ट, घर में घुसकर मारपीट, तोडफोउ़ के  29 अपराध दर्ज है तो सारंग पर 10 से अधिक अपराध दर्ज है। छोटू 2222 नंबर से गैंग चलाता है और  सारंग 4141 नंबर से गैंग चला रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *