ग्वालियर-सीधी में सीजन में पहली बार तेज गर्मी; टेम्प्रेचर 37 डिग्री पार; सितंबर में अच्छी बारिश का अनुमान

मध्यप्रदेश में मानसून ब्रेक होने से गर्मी और उमस का असर बढ़ गया है। गुरुवार को प्रदेश के 31 जिलों में तापमान 30 डिग्री के पार रहा। इनमें ग्वालियर और सीधी में टेम्प्रेचर 37 डिग्री दर्ज किया गया। भोपाल, इंदौर और उज्जैन में भी गर्मी-उमस रही। शुक्रवार को भी ऐसा ही मौसम रहेगा। हालांकि, लोकल सिस्टम की एक्टिविटी से कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी या मध्यम-तेज बारिश हो सकती है। 4-5 सितंबर से दो सिस्टम एक्टिव हो सकते हैं। सागर में गुरुवार को सवा इंच से ज्यादा बारिश दर्ज की गई।

बता दें कि प्रदेश में 25 अगस्त से मानसून ब्रेक है। जिसके 1-2 सितंबर को खत्म होने का अनुमान था, लेकिन अब यह 4 से 5 सितंबर तक खत्म हो सकता है। सीनियर मौसम वैज्ञानिक डॉ. वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि नए सिस्टम की वजह से पूर्वी हिस्से में मध्यम से तेज बारिश का अनुमान है। बारिश का दौर 18 से 19 सितंबर तक रह सकता है।

अगस्त में दो बार मानसून ब्रेक

अगस्त महीने में मानसून की एक्टिविटी कम ही देखने को मिली। 5 से 17 अगस्त के बीच मानसून ब्रेक रहा। इसके बाद बारिश का दौर शुरू हुआ, लेकिन एक सप्ताह ही बारिश का दौर चला। 25 अगस्त से फिर से ब्रेक हो गया, जो अभी तक है।

गुरुवार को सागर में तेज बारिश हुई। वहीं, भोपाल के कुछ इलाकों में भी आधे घंटे तक पानी गिरा।
गुरुवार को सागर में तेज बारिश हुई। वहीं, भोपाल के कुछ इलाकों में भी आधे घंटे तक पानी गिरा।

24 घंटे में कैसा रहा मौसम

  • तेज गर्मी और नमी की वजह से लोकल सिस्टम एक्टिव होने से सागर में सवा इंच से ज्यादा पानी गिरा। वहीं, भोपाल, नर्मदापुरम, आगर-मालवा में भी हल्की बारिश हुई। बाकी जिलों में गर्मी का असर देखने को मिला।
  • ग्वालियर और सीधी में टेम्प्रेचर 37 डिग्री तक पहुंच गया। इसके अलावा भोपाल, बैतूल, दतिया, गुना, नर्मदापुरम, इंदौर, खंडवा, खरगोन, रायसेन, राजगढ़, रतलाम, शाजापुर, श्योपुरकलां, शिवपुरी, उज्जैन, छिंदवाड़ा, दमोह, जबलपुर, खजुराहो, मंडला, नरसिंहपुर, नौगांव, रीवा, सागर, सतना, सिवनी, टीकमगढ़, उमरिया और मलाजखंड में पारा 30 डिग्री या इससे ज्यादा ही रहा।

MP में ओवरऑल 15% बारिश कम

प्रदेश में बारिश नहीं होने से सामान्य बारिश के आंकड़े में कमी आ रही है। प्रदेश में अब तक सामान्य से 15% कम बारिश हुई है। पूर्वी हिस्से में 12 कम और पश्चिमी हिस्से में यह आंकड़ा 19% कम है।

  • सबसे ज्यादा बारिश नरसिंहपुर में हुई है। यहां अब तक हुई बारिश का आंकड़ा 41 इंच से अधिक है।
  • सिवनी में 37.53 इंच, मंडला-जबलपुर में 35, डिंडोरी में 34 से ज्यादा बारिश हो चुकी है।
  • इंदौर, अनूपपुर, बालाघाट, छिंदवाड़ा, पन्ना, सागर, शहडोल, उमरिया, रायसेन और नर्मदापुरम में 28 इंच या इससे ज्यादा बारिश दर्ज की गई है।
  • दमोह, कटनी, निवाड़ी, बैतूल, भिंड, हरदा, रतलाम, सीहोर और विदिशा में आंकड़ा 24 इंच से अधिक है।

इन जिलों में कम बारिश

  • खरगोन, मंदसौर, बड़वानी, ग्वालियर में सबसे कम कम बारिश हुई है। यहां आंकड़ा 20 इंच से कम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *