इंदौर में दोहरे हत्याकांड में पत्नी और साढ़ू पर शक:3 दिन पहले गांव से आई और जीजा के यहां रुकी रही, पति से नहीं मिली

तेजाजी नगर थाना क्षेत्र में एक दिन पहले हुए दोहरे हत्याकांड में नई जानकारी सामने आई है। जिस एक शख्स की शिनाख्त हुई है, उसकी पत्नी और इंदौर में रहने वाले साढ़ू से पुलिस पूछताछ कर रही है। दूसरे मृत शख्स की शनिवार दोपहर तक शिनाख्त नहीं हो सकी। यही नहीं, इन दो शवों से जुड़ी छानबीन में पता चला है कि एक तीसरा शख्स भी है, जो लापता है। पुलिस अब उसकी तलाश रही है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, मृत हरिराम किराड़े निवासी सांघी-खंडवा की पत्नी और साढ़ू के बयान लिए जा रहे हैं। पता चला है कि हरि की पत्नी इंदौर में 3 दिन से साढ़ू के घर रुकी हुई थी। बावजूद, वह हरि से मिलने तक नहीं आई। साढ़ू की पत्नी की पहले ही मौत हो चुकी है और वह पेशे से कुक है।

बता दें कि नेमावर रोड पर देवगुराड़िया ब्रिज के पास शुक्रवार को खेत में दो अज्ञात शव मिले थे। शवों के शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था। शरीर पर लाठी-डंडों से पीटने के निशान पाए गए थे। माना जा रहा है कि दोनों को पीट-पीटकर मौत के घाट उतारा गया है। उसके बाद पहचान छुपाने के लिए ईंट और पत्थरों से भी चेहरे और शरीर को कुचला गया था।

पर्ची पर लिखा मोबाइल नंबर मिला

पुलिस को मौके से एक पर्ची पर लिखा मोबाइल नंबर मिला है। इसी पर बात करने पर एक मृतक की पहचान हरिराम के रूप में हुई। वह इंदौर के मूसाखेड़ी में मिस्त्री का काम करता था। तीन इमली ब्रिज के नीचे रहता था।गुरुवार की शाम करीब 7:30 बजे उसे आखिरी बार उसी क्षेत्र में देखा गया था। साथ में मृत मिले दूसरे शख्स की अभी पहचान नहीं हुई है वो महू का रहने वाला बताया गया है। वह अमूमन हरिराम के साथ दिखाई देता था। अभी उसका नाम ओम होना पता चला है लेकिन पूरा नाम, कौन है, क्या करता था, यहां कहां से आया था, यह कुछ पता नहीं चला है।

पुलिस को दो दिन से गायब तीसरे शख्स की भी तलाश

पुलिस को मामले में अहम सुराग मिला है। हरिराम के साथ एक अन्य व्यक्ति भी रहता था जो उसी के साथ साथ सोता था। वह भी दो दिन से गायब है। पुलिस उसे भी ढूंढ़ रही है। उसके मिलने पर नई जानकारी सामने आ सकती है। फिलहाल हत्या किसने की, यह पता नहीं चला है।

पुलिस का दावा- 3 दिन से पत्नी इंदौर में थी लेकिन मिलने नहीं आई

पुलिस को जांच में पता चला कि हरिराम की पत्नी तीन दिन से गांव से आकर इंदौर में साढ़ू के घर रुकी हुई थी। वह पति से आकर नहीं मिली। साढू की पत्नी की मौत हो चुकी है। इस बीच साढू का फोन भी 24 घंटे के लिए बंद था। पुलिस मृतक की पत्नी और साढू से पूछताछ कर रही है। साढू ने पुलिस को बताया कि हरिराम की पत्नी की मानसिक हालत ठीक नहीं थी, उसके इलाज के लिए इंदौर आई थी।

1 साल पहले इंदौर आया था, गांव में जमीन

हरिराम की गांव सांघी में चार-पांच बीघा की खेती है। पत्नी से विवाद के चलते वह एक साल पहले इंदौर आ गया था। यहां अपना काम करता था। दोनों में अनबन होती रहती थी। तीन संतान भी हैं। सभी अलग-अलग जगह रहते हैं। एक लड़के के बड़वाह में रहने की जानकारी मिली है, बाकी दो के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है। पुलिस जमीन विवाद में वारदात के एंगल पर भी जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *