मंडप छोड़कर भागा दूल्हा, तिलक लेकर नहीं पहुंचा वधुपक्ष, जानें पूरी कहानी

मध्य प्रदेश के खरगोन में शनिवार की रात शादी समारोह में मामली कहासुनी से दूल्हे का पारा इस कदर चढ़ा कि साफा फेंककर वह मंडप से भाग गया। घटना के बाद दुल्हन की स्थिति खराब है। परिजनों ने जिला अस्पताल में उसी भर्ती कराया है। पुलिस ने केस दर्ज कर विवेचना शुरू की है।

तिलक में 20 लाख न मिले तो लौटाई बारात
खंडवा निवासी अनिल मंडलौई के बेटी रक्षा और खरगोन निवासी आनंद गरासे का शादी खरगोन के मैरिज गार्डन में हो रही थी। तिलक के समय आनंद और उसके पिता कमल गरासे 20 लाख मांगने लगे। मनमांगा दहेज न मिलने पर दूल्हा मंडप छोड़कर चल दिया। इसके बाद बारात भी लौटा ली। पीड़ित पक्ष थाने पहुंचा तो पुलिस ने FIR दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की है।

बंटी की तिलक ही नहीं पहुंची
मुरैना जिले के नूराबाद निवासी लाल सिंह गुर्जर ने ग्वालियर के पुरासानी में रहने वाले बंटी गुर्जर और उसकी बहन का रिश्ता तय कराया था। बहन की शादी हो गई, लेकिन बंटी की तिलक ही नहीं पहुंची। बंटी की शादी शिवपुरी जिले के मेहताब सिंह गुर्जर की बेटी संग फिक्स हुई थी।

सुबह से शाम तक करते रहे इंतजार
शनिवार को तिलक आनी थी, लेकिन सुबह से शाम तक इंतजार के बाद जब लड़की पक्ष के लोग लगन लेकर नहीं आए तो बंटी ने लाल सिंह को लड़की वालों को फोन करने के लिए बुलाया। लेकिन लड़की वालों ने फोन रिसीव नहीं किया।

बिचवैक को बंधक बनाकर पीटा
शादी टूटने से गुस्साए बंटी गुर्जर, जांडेल सिंह गुर्जर, केशव सिंह गुर्जर व रामबरन सिंह गुर्जर ने लाल सिंह को बंधक बना लिया। पेड़ से बांधकर रात भर पिटाई की। पुलिस को मामले की जानकारी लगी तो मौके पर पहुंची और लाल सिंह को मुक्त कराते हुए आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *