Thermonator… ये है आग उगलने वाला रोबोडॉग, 30 फीट तक जाती है इसकी लपट

अमेरिका के ओहायो में थ्रोफ्लेम नाम की एक कंपनी है. उसने एक रोबोट कुत्ता बनाया है. नाम है थर्मोनेटर (Thermonator). ये सिर्फ भौंकता, दौड़ता या उछलता-कूदता नहीं है. बल्कि आपके एक इशारे पर यह आग भी उगलता है. यह दुनिया का पहला आग उगलने वाला रोबोडॉग है. (सभी फोटोः थ्रोफ्लेम डॉट कॉम) थर्मोनेटर की पीठ पर ARC Flamethrower लगा है. जिसे रिमोट से चलाता जाता है. यह 30 फीट लंबी आग की लपट फेंकता है. कंपनी इसे 9420 डॉलर में बेंच रही है. यानी 7.84 लाख रुपए से थोड़ा ज्यादा. कंपनी की साइट पर इसे खरीदने का सारा तरीका बताया गया है. साथ ही इसकी खासियत. थर्मोनेटर को बनाने वाली कंपनी मजाक के लहजे में यह दावा करती है कि हम कहीं भी ऑन डिमांड डिलिवरी देंगे. ताकि ये कहीं भी आग लगा सके. असल में थ्रोफ्लेम कंपनी अमेरिका की सबसे पुरानी फ्लेम थ्रोअर कंपनी है. यानी वो कंपनी जो ऐसे यंत्र बनाती है, जो आग फेंकने में सक्षम होते हैं. वो भी जरूरत के मुताबिक. इसे एक इंसान रिमोट से चला सकता है. इसलिए इसे फर्स्ट पर्सन व्यू (FPV) कंट्रोलर कहते हैं. यह ड्रोन को संभालने की प्रसिद्ध तकनीक है, जिसका इस्तेमाल अब इस कुत्ते को संचालित करने के लिए किया गया है. यूक्रेन में इसी तकनीक का इस्तेमाल रूसी सैनिकों, टैंकों और बख्तरबंद वाहनों पर किया गया था. आग कहां फेंकनी है, इसके लिए थर्मोनेटर में लेजर मांउट किया गया है. यानी जहां या जिसे टारगेट बनाना हो, वहां पर लेजर से डॉग को गाइड करो. इसके बाद यह लेजर की दिशा में थर्मोनेटर आग की लपट फेंकने लगता है. यह डॉग खुद ही रोशनी, रेंजिंग और लिडार (LIDAR) सिस्टम के जरिए नेविगेट करता है. इसमें लगी लेजर आंखों को नुकसान नहीं पहुंचाती. यह लेजर आसपास के इलाके का थ्रीडी मैप बनाती है. ये सिस्टम आजकल खुद चलने वाली कारों (Self-Driving Cars) में इस्तेमाल हो रहा है. लिडार सिस्टम का इस्तेमाल घने जंगलों या शहरों में नक्शे वगैरह बनाने में काम आता है. थर्मोनेटर के ऊपर पिकैटिनी रेल लगी है, जिसके ऊपर आग फेंकने वाली गन. या फिर असॉल्ट राइफल, या ग्रैनेड लॉन्चर लगा सकते हैं. यह फिर निगरानी या जासूसी के लिए कई प्रकार के ताकतवर कैमरे लगा सकते हैं. इसका इस्तेमाल जंगल की आग को रोकने, कृषि प्रबंधन, कंजरवेशन, बर्फ हटाने जैसे कार्यों के लिए भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *