मदद कर जीता विश्वास, किया रेप:निकाह कर भोपाल, झांसी में रखकर कई बार किया दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

ग्वालियर में परिजन शादी का दबाव बना रहे थे तो पड़ोसी युवक मददगार बनकर आया और 19 वर्षीय छात्रा को लेकर भोपाल और झांसी पहुंचा। यहां पर मददगार ने धमकाकर उससे निकाह किया और जबरन दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। घटना बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के शंकरपुर की है। छात्रा के गायब होने का पता चला तो परिजन ने पुलिस थाना में शिकायत की।

शिकायत के बाद पुलिस ने युवती की तलाश की और उसे झांसी से बरामद कर लिया। पुलिस ने जब छात्रा से पूछताछ की तो उसके साथ घटी घटना का पता चला और पुलिस ने पीड़िता के बयान के बाद आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म और अगवा करने का मामला दर्ज उसे गिरफ्तार कर लिया है।

बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के शंकरपुर निवासी 19 वर्षीय छात्रा एक फरवरी को अचानक गायब हो गई। छात्रा के गायब होने का पता चलते ही पुलिस से शिकायत की गई। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लापता की तलाश शुरू की तो पता चला कि लापता छात्रा भोपाल में है। पुलिस की टीम ने भोपाल में दबिश दी तो पता चला कि एक दिन पहले ही छात्रा भोपाल से निकल गई है। इसका पता चलते ही पुलिस वापस लौटी और उसकी सर्चिंग शुरू की तो पता चला कि लड़की अब झांसी में रह रही है। इसका पता चलते ही पुलिस झांसी पहुंची और लड़की को बरामद कर लिया। पुलिस पूछताछ में पता चला कि लापता को पास ही रहने वाला रोहित खान ले गया था। पुलिस ने उसकी तलाश की तो वह वहां से निकल गया। पुलिस लापता को बरामद कर थाने लाई और पूछताछ की तो पता चला कि आरोपी ने जबरन उससे निकाह कर लिया है और उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था।
शादी से डरकर भागी थी, निकाह के साथ मिला दुष्कर्म का दर्द
पीड़ित छात्रा ने पुलिस को बताया कि उसके माता-पिता उसका निकाह करना चाहते थे और वह निकाह अभी नहीं करना चाहती थी। जब यह बात उसने अपने दोस्त को बताई तो वह उसे मदद का झांसा देकर ले गया और करीब आठ से दस दिन भोपाल रखा, फिर वह उसे लेकर झांसी आ गया और किराए के कमरे में रखा, यहां पर उसने जबरन उससे निकाह किया और उसके साथ कई बार गलत काम किया।
आरोपी को पुलिस ने पकड़ा
पुलिस ने पीड़िता के बयान के बाद आरोपी के खिलाफ अगवा करने और दुष्कर्म करने का मामला दर्ज कर आरोपी को दबोच लिय है। पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ करने में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *